सुपौल पुलिस को मिली बड़ी सफलता, 7 साल से फरार कुख्यात प्रिंस यादव गिरफ्तार

सुपौल पुलिस को मिली बड़ी सफलता, 7 साल से फरार कुख्यात प्रिंस यादव गिरफ्तार

SUPAUL: सुपौल पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. पिछले सात साल से फरार चल रहे कुख्यात अपराधी प्रिंस कुमार यादव को गिरफ्तार कर लिया है. इस दौरान अपराधी के साथ से तीन अन्य लोग और 2 देशी कट्टा, 3 मोबाइल, 2 जिंदा कारतूस औऱ 16 हजार 3 सौ रुपये नकद बरामद किया गया है. 


मामले की जानकारी देते हुए त्रिवेणीगंज एसडीपीओ गणपति ठाकुर बताया कि प्रिंस यादव नाम का कुख्यात लुटेरा लगभग पिछले सात वर्षों से फरार चल रहा था. यह DIG शिवदीप लांडे के टॉप टेन मोस्टवांटेड अपराधकर्मियों की लिस्ट में भी शामिल था. यह फरार रहकर आपराधिक घटनाओं को अंजाम देता था. 


पुलिस ने बताया कि बीते रात सूचना मिली थी कि कुख्यात अपराधी प्रिंस कुमार त्रिवेणीगंज थाना क्षेत्र के लक्ष्मीनिया गांव अपने घर आने वाला है. इसके बाद आनन-फानन में थानाध्यक्ष संदीप कुमार सिंह के नेतृव में टीम का गठन किया गया. पुलिस की टीम ने सुबह तकरीबन साढ़े तीन बजे उसके घर पर छापामारी की. 


पुलिस की छापेमारी में कुख्यात प्रिंस यादव को उसके तीन सहयोगी के साथ गिरफ्तार कर लिया. इस दौरान उसके पास से 2 आर्म्स, 2 जिंदा कारतूस, 3 मोबाइल औऱ 16 हजार 3 सौ नकद रुपये बरामद किया गया. गिरफ्तारी के बाद अपराधी को रिमांड किया जाएगा।


पुलिस ने कुख्यात अपराधी प्रिंस कुमार के साथ गिरफ्तार उसके तीन सहयोगी की भी जानकारी निकाल ली है. आरोपी की पहचान लक्ष्मीनिया निवासी के प्रशांत कुमार, छातापुर थाना क्षेत्र के मोहम्मदगंज निवासी प्रवेश कुमार यादव औऱ मधेपुरा जिले के भतनी ओपी थाना क्षेत्र के पुष्पेष कुमार के रूप में हुआ है.